(2021) Backlink क्या है और कैसे बनाते हैं?

यदि आप Blogging कर रहे हैं और नहीं जानते हैं कि Backlink क्या है और इसका उपयोग क्या है और कैसे बनाते हैं तो आज मैं आपको इसके बारे में पूरी जानकारी दूंगा। 

यदि आप blogging करते हैं तो आपने जरूर ही Backlink का नाम सुना होगा।

किसी भी Blogger के लिए Backlink की जानकारी होना बहुत ही जरूरी है। कोई भी हो यदि वह बैकलिंक के बारे में नहीं जानता है तो वह SEO को उतनी अच्छी तरह से नहीं जान पायेगा। 

यह भी पढ़ें

तो आज की इस पोस्ट में हम Backlink के बारे में बात करेंगे और मैं आपको Backlink से जुडी साड़ी चीजें आसानी से समझा सकूँ इसकी पूरी कोशिश करूंगा। तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

Backlink क्या है?

backlink kya hai

जब कोई web page पर किसी अन्य web page की लिंक होती है तो वह link backlink कहलाती है।

कोई भी यूजर जो कि उस web page पर आता है तो वह उस link की मदद से सीधे उस अन्य web page पर जा सकता है।

SEO के तीन पार्ट होते हैं। जिसमें से एक है off page SEO. और Off Page SEO का मुख्य काम है backlinks बनाना।

Backlink पहले भी एक बड़ा ranking factor था और आज भी एक बड़ा ranking factor है लेकिन google सबसे पहले content को अहमियत देता है।

यह भी पढ़ें – Blogger vs WordPress In Hind, Free Website Kaise Banaye In Hindi

कब Backlinks बनानी चाहिए

न backlink बनाने का कोई समय होता है और न कोई संख्या। लेकिन आपको यह कैसे पता चलेगा कि आपको किस परिस्थिति में backlinks बनानी चाहिए।

तो इसका जवाब है कि आपको backlink पर तब focus करना है जब आपके आप किसी ऐंसे niche पर काम कर रहे हैं जिसमें कि competition अधिक हो।

लोग आपको किसी niche के keywords का competition पता करने के लिए SEMrush या अन्य दूसरे tool का इस्तेमाल करने के लिए कहते हैं।

लेकिन आप यह काम इस तरह कर सकते हैं।

जब उस keyword पर top 10 results में अधिकतर brands blog (जैसे कोई बड़ी news site) रैंक करें या ऐंसी sites rank करें जिनकी domain authority (moz टूल वाली) 50 के आस पास हो तो आपको ऐंसे keywords पर backlink की जरूरत होगी।

लेकिन यदि बड़े बड़े blogs के उस page पर अच्छा content है तो आपके द्वारा अच्छी backlinks बनाने पर भी आपके blog का rank करना बहुत मुश्किल है।

लेकिन यदि किसी keyword पर बहुत छोटे blogs rank कर रहे हैं तो आपको backlink की जरूरत नहीं होगी।

लेकिन चाहे जो भी परिस्थिति हो backlink हमेशा आपको rank करने में मदद करेगी।

Backlink बनाने के फायदे

बैकलिंक बनाने के बहुत ही बड़े फायदे हैं। इससे आपके blog को बहुत से फायदे होते है किसी भी backlink से दो तरह के फायदे होते हैं

1. Google में अच्छी rankings मिलती हैं

Backlinks off page SEO का हिस्सा होती हैं। और backlinks बनाने का मुख्य उद्देश्य google में किसी keyword के लिए website पहली या अच्छी position पर रैंक कर सके।

Backlinks गूगल के लिए एक strong signal होता है और जिससे google को website के लिए सही ranking देने में मदद मिलती है।

2. आपकी Website को ट्रैफिक मिलता है

जैसा कि मैंने आपको बताया है की backlink तब बनती है जब कोई साइट किसी अन्य साइट की link को अपनी site पर देती है और कोई भी इस लिंक की मदद से उस blog से आपके blog पर आ सकता है। 

आप इसकी मदद से अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक ला सकते हैं। यदि आप ऐंसी site पर लिंक बनाते हैं जिस पर की अच्छा ट्रैफिक है तो इससे आपके ब्लॉग पर भी ट्रैफिक आ सकता है।

क्योंकि जब कोई उस blog पर आएगा तो इस बात की संभावना बहुत बढ़ जाती है कि वह आपकी दी हुई लिंक जो कि आपके ब्लॉग की है उस पर क्लिक करके आपके Blog पर आ जायेगा और आपको भी इसकी मदद से कुछ traffic मिल जायेगा।

यह भी पढ़ें – Youtube Tips In HindiYoutube Se Paise Kaise KamayePaybox Se Paise Kaise Kamaye

3. आपके Domain की authority बढ़ती है

यदि कोई Site जो की पहले से ही Google की नजर में अच्छी है और यदि आपको backlink देती है तो आपको blog की ranking बहुत ही improve हो जाएँगी।

किसी भी site की backlink profile अच्छी होने से SEO के अलावा भी बहुत से फायदे होते हैं।

Moz Bar एक ऐंसा टूल है जो कि आपको काफी हद तक आपको डोमेन की सही authority बता देती है। यह एक Chrome एक्सटेंशन Tool अवेलेबल है जो कि आपको Domain authority, Page Authority और Spam Score के साथ बहुत सी चीजें चेक कर सकते हैं।

आप किसी भी ऐंसी site पर backlink न बनायें जिसका कि spam score बहुत ज्यादा हो।

Backlink के प्रकार

Backlink दो तरह की होती है और यह उसके html structure पर निर्भर करती हैं। Backlink दो प्रकार की होती हैं   

1. Do-Follow Backlink

Do-Follow backlink बनाने से ही किसी साइट की authority जल्दी से बढ़ा सकते हैं। Do-Follow backlink बनाने से ही site को सबसे ज्यादा फायदा होता है। 

यदि आप किसी भी Do-Follow Backlink का html tag देखेंगे तो वह कुछ ऐंसा दिखेगा  

<a href=”https://www.howtoall.in”>How To All</a>

किसी भी साइट को यह backlink बनाने पर फोकस करना चाहिए।    क्योंकि यदि Google का Crawler किसी साइट पर आता है  और यदि आप आपकी site  या blog की लिंक को इस structure के साथ देखता है तो वह इस लिंक को फॉलो करके आपके blog पर आ जाता है।

मतलब की क्रॉलर उस site से आपकी site पर आ रहा है तो इससे एक ट्रस्ट ट्रांसफर होता है उस blog से आपके blog पर। क्योंकि Crawler उस ब्लॉग से आपके blog पर आया है इसलिए Google आपकी भी authority बढ़ा देती है। 

2. No-Follow Backlink

इसका Html structure कुछ इस तरह का होता है   

<a href=”https://www.howtoall.in” rel=”nofollow”>How To All</a>

इस backlink से होने वाला फायदा बहुत ही अधिक कम है। इससे आपके ब्लॉग को कुछ ज्यादा फायदा नहीं होगा लेकिन आपको यह भी backlink बनानी है। आप इस backlink को बनाकर जो फायदा ले सकते हैं वह ले लें।

इसके अलावा आपको इससे दूसरा फायदा यह होगा कि आपके ब्लॉग की दोनों तरह की backlink बनेंगी और Google आपकी साइट को स्पैमिंग साइट नहीं समझेगा।

यदि आप एक ही तरह की backlink बनाएंगे तो google को लगेगा की आप black hat seo कर रहे हैं और वह आपकी साइट की authority नहीं बढ़ाये और वह आपकी साइट को रैंक भी नहीं करेगा।

आपको इस backlink से ज्यादा फायदा नहीं होता है इसका कारण यह है कि इसके structure में rel=”nofollow” है।

यह एक ऐंसा टैग है जो कि क्रॉलर को यह बताता है कि उस लिंक को follow करना है या नहीं मतलब कि उस लिंक को फॉलो करके उस blog पर जाना है या नहीं।

यहाँ पर rel=”nofollow” है जो क्रॉलर को यह बताता है को आपको इस लिंक को follow नहीं करना है और यह इसके नाम से ही समझ आता है कि nofollow मतलब फॉलो मत करो।

आपको यह पता होना चाहिए: Paisa Kamane Wala Game.

इससे क्रॉलर से आपकी साइट पर नहीं आ पता है और इससे जो ट्रस्ट ट्रांसफर होना चाहिए वह नहीं होता है। इससे आपको इस backlink से ज्यादा फायदा नहीं  होता है।

Backlink का Type कैसे पता करें

अगर आपको यह पता करना है कि कोई link Do follow है या no follow तो आप इसका पता कैसे करेंगे।

तो यह बहुत आसान है।

आप किसी भी desktop या laptop में किसी भी browser से यह कर सकते हैं।

सबसे पहले आपको उस web page पर जाना होगा।

इसके बाद आपको उस लिंक पर राइट क्लिक करना है। और इसके बाद आपको inspect पर क्लिक करना है।

inspection tool

जैसे ही आप inspect पर क्लिक करते हैं तो आपको screen पर inspect mode दिखेगा जिसमें आपको link का html tag भी दिखेगा।

link html tag

अगर link में nofollow attribute है तो वह एक nofollow backlink है और यदि कोई भी attribute नहीं है या dofollow attirbute है तो वह एक dofollow backlink है।

Best Backlink Building Strategies

अब बात आती है कि हम backlink कैसे बना सकते हैं तो यह कुछ तरीके हैं जिससे कि आप backlink बना सकते हैं।  

1. Guest Posting

आपको सबसे पहले एक blog को चुनना होगा जो कि अच्छा है और आपके blog से related हों। आपको उस blog के admin से संपर्क करना होगा और उस्सको guest post की permission देने के लिए मनाना होगा। 

साथ ही आपकी यह भी  कंडीशन रखनी होगी कि आप Guest post free में लिख तो देंगे तो Do follow backlink अपने blog के लिए लेंगे। 

यदि वह आपको Guest Post करने की permission दे देता है तो आप एक अच्छा आर्टिकल लिख कर उसको दे दें और आप उसमें अपनी link do follow के रूप में इन्सर्ट कर दें। यदि यह पोस्ट वह अपने blog पर पब्लिश कर देता है तो आपको एक Powerful do follow backlink मिल जाएगी।

2. Broken Link Building 

इस तरीके से backlink बनाने के लिए आपको थोड़ी मेहनत लगेगी।

सबसे पहले यह जानते हैं कि broken link क्या होती है तो जब किसी web page पर ऐंसी link हो जो कि 404 error शो करती है तो वह एक broken link होती है।

और broken links भी SEO के लिए अच्छी बात नहीं होती है और इन्हें जल्दी fix कर देना चाहिए।

अगर आपको किसी blog post पर broken link मिलती है और link के webpage के content के जैसा ही content आपने भी अपने blog पर publish किया है तो आप blog के author को संपर्क कर सकते हैं और बता सकते हैं कि यह broken link है और उसे उस link को आपकी website की link से replace करने का suggestion दे सकते हैं।

अगर आपको manually broken links नहीं मिलती हैं तो आप broken link checker tools का इस्तेमाल करके किसी भी sites की broken links का पता लगा सकते हैं।

3. Link Exchange

Backlink exchange करना google के हिसाब से गलत है। लेकिन यह तब गलत है जब आप बिना किसी relevancy के link exchange करते फिरें।

Relevant website वह होती हैं जो कि same niche या same topic पर हों या कहें तो वह relevant topics पर लिखती हों।

यदि आप किसी relevant site को backlink दें और उसी site से backlink लें।

4. Wikipedia पर लिंक बनायें

आप चाहें तो wikipedia से भी backlink बना सकते हैं लेकिन यह no follow backlink बनेंगी। Wikipedia एक बहुत बड़ी website है जिसपर information होती है।

पर इतनी अधिक जानकारी को update रख पाना खुद wikipedia के बस की बात नहीं है। इसलिए wikipedia अपने यूजर से ही अपने कंटेंट को एडिट करने के लिए कहता है।

आप अपनी पोस्ट या blog से related एक post wikipedia की देखें और उसे एडिट करते वक़्त अपनी लिंक दे दें। इससे आपको backlink मिल जाएगी।

5. Comment Backlinks

आज से बहुत समय पहले comment backlink उपयोगी होती थीं। लेकिन इससे google को quality backlinks का पता चलाने में दिक्कत होती थी।

लोग comment spam करते थे और backlinks बनाते थे। जिससे backlink crawling सही से नहीं होती थी और google उन backlinks को value दे देता था जो कि relevant नहीं होती थीं।

इसीलिए google वर्ष 2005 में nofollow backlink attribute को लाया।

लेकिन comment backlinks भी value रखती हैं और आपको सही तरह से comment backlink बनानी चाहिए।

6. Forum Backlinks

Forums (जैसे कि quora आदि) website पर traffic लाने का तरीका है न की backlinks बनाने का।

आप एक बात सोचिये कि जिस site से लाखों backlinks दूसरी site को जा रही हैं google को क्यों लगेगा कि वह link कुछ value रखती है।

और दूसरी बात यह है कि अधिकतर forums में जो links बनती हैं वह no follow होती हैं। आप forums का इस्तेमाल जरूर करें लेकिन traffic के लिए न कि backlinks के लिए।

7. Profile Building Sites

Internet पर बहुत सी websites हैं जो कि आपको profile बनाकर उसमें links जोड़ने का option देती हैं। लेकिन उन sites पर न तो कोई traffic होता है और न ही उनकी खुद की अच्छी link profile होती है।

और वह sites खुद एक spam की तरह होती हैं। इसिलिए आप इन तरह की site से दूर ही रहें।

हाँ आप उन sites पर profile बनाकर और website की link add कर सकते हैं जिनकी domain authority अच्छी है और उन पर अच्छा खासा traffic है और जिनका spam score न के बराबर है।

निष्कर्ष

यदि आप इस क़्क्त blogging में नए नए है तो आप content लिखने पर फोकस करें। आप backlink के बारे में ज्यादा न ही सोचें तो अच्छा है। यदि आपका कंटेंट अच्छा नहीं होगा और यदि आप backlink बना भी लेंगे तो भी आप रैंक नहीं करेंगे।

आज के वक्त में No Follow backlink बनाना तो आसान है लेकिन Do Follow Backlink बनाना आसान नहीं है। Do Follow Backlink बनाने में बहुत समय लगता है इसलिए यदि आप शुरू से भी backlink को लेकर बैठ जायेंगे तो आपका पूरा टाइम इसमें ही चला जायेगा और आप न कंटेंट अच्छे से लिख पाएंगे और न ही SEO से जुड़ी अन्य चीजें सीख पायेंगे। 

Backlink आपके आर्टिकल को google में रैंक कराने के लिए मदद करती है रैंक नहीं कराती है। आपको रैंक कराता है आपका On Page SEO मतलब की आपके द्वारा लिखा हुआ कंटेंट। 

इस पोस्ट में मैंने पूरी कोशिश की है कि आपको Backlink क्या है यह बता सकूं और मुझे उम्मीद है कि आप यह जान गए होंगे कि Backlink कैसे बनाते हैंBacklink In Hindi.

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी है तो आप comment करके मुझे जरूर बताएं। यदि आपके मन में Backlink, SEO, और Blogging को लेकर क्कोई सवाल है तो आप हमसे कमेंट में पूँछ सकते हैं। मैं  आपके सवाल का जवाब जरूर दूंगा।

4 thoughts on “(2021) Backlink क्या है और कैसे बनाते हैं?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top